दिल के अल्फ़ाज़ ... love, true love and sad quotes in hindi

दिल के अल्फ़ाज़ किरण की कलम और दिल से .....💔💝💕 

ये इशक बड़ा ही नाज़ुक होता हैं जरा सी बात पर दिल टूट जाता हैं और जरा सी बात पर किसी और का हो जाता हैं. कहते हैं दिल के कई रगं रूप होते हैं. कभी ये हँसता है कभी रोता .
मेरे अल्फ़ाज़ो मे आपका पयार और आपका दर्द कम मेरे लिखने मकसद पुरा हो बस मेरे साथ आपका साथ हो और लिखने ये जोश मेरा कभी कम ना हो.

दिल का सबसे बड़ा रिश्ता इश्क से होता हैं. जब किसी से मोहब्बत होती हैं तब दिल न अपने दिमाग की सुनता हैं ना ज़माने की सुनता हैं, बस मोहब्बत की धुन में रंग जाता हैं, और ये रंग जितना गहरा होता जाता हैं उतना ही दिल प्यार के रंगों से रंगीन हो जाता हैं.. 

प्यार की शुरुवात आखों से शुरू होकर और दिल देने पर खत्म होती हैं. दिल ही घर बन जाता हैं प्यार का, बस इसकी एक ही आरज़ू होती हैं. बस "वो" आँखों के सामने हो दिल के करीब हो . दिल बच्चा सा हो जाता हैं. और बस यही कहता हैं नहीं चाहिए सारी दुनियां की खुशिया बस मुझे वो और उसका साथ चाहियें जिसके लिए अब मेरा दिल धड़कता है अब ये धड़कन सिर्फ और सिर्फ उसकी हैं उसके बिना
अब मैं किसी काम का नहीं.

वही प्यार में शीशे से भी नाज़ुक होता हैं जरा सी ठोकर से टूट के बिखर जाता हैं. और जरा सी बात पर बच्चे के खिलौने की तरह टूट कर बिखर जाता हैं. 

  सच कहू तो प्यार में धोखा खाए दिल का बहुत बुरा हाल होता हैं. ना उसे भूख लगती हैं ना प्यास ना दिन में चैन मिलता हैं ना रातो में करार
हर वक्त आँखों की जगह आंसू दिल से निकलते हैं. 
Friends आज इस आर्टिकल में, "दिल" से जुडी हर वो बाते होंगी जो शायराना अंदाज़ लिखी हुई कुछ गम आपके कुछ मेरे ...


मेरे अल्फ़ाज़ का यह विशाल संग्रह आप को बेहद पसंद आएगा जिसमे आप को हर तरह love, betrayal true love and sad quotes in hindi पढ़ने को मिलेगी.
दिल पर लाज़वाब शायरियां जो आप को बेहद पसंद आएगी, आप इसे फेसबुक और WhatsApp पर अपने दोस्तों या अपने प्यार को भी शेयर कर सकते हो...

Love and betrayal quotes with image


1. हर फूल मन्दिर में नही चढ़ते,हर पत्थर की पूजा नहीं होती कोई शौकत से तो किसी के जनाज़े को लोग नही मिलते !!

2. बहुत खूबसूरत हो तुम ,
बेवजह नहीं , मेरी ज़रूरत हो तुम । बहुत फासले हैं, तेरे - मेरे दरमियाँ , फिर भी , बहुत करीब हो तुम
हुई तबियत मेरी शायराना , इसकी वजह भी हो तुम..!!

3. औरत हूँ नई शदी की,कोई बेचारी नही ,घर - गृहस्थी संभालना मेरी ज़िम्मेदारी है , कोई लाचारी नही । सबकी सुनना तहज़ीब है मेरी ,लेकिन ,अत्याचार सहने की अब मेरी आदत नही

4. मेरा होकर भी वो मेरा नही
ये सच्चाई सी चुभती रही,
नही है कोई रास्ता उसे पाने का , मगर ज़िंदगी झूठे दिलासे देती रही ।

5. कल तक जान कहने वाले ,आज हमें बदनाम कर गए
मोहब्बत उनसे नहीं निभाई गई ,
वो हमें अनजान कहकर मुकर गये

 6. कहीं बेकरारी का इलाज नहीं मिलता कहीं इस खुमारी का इलाज नहीं मिलता इश्क कहते हैं जिसे लोग 
इस बीमारी का कोई वैध नहीं मिलता..

7. खुली किताब की तरह है जिंदगी जिसे पढा हर किसी ने लेकिन समझने वाला कोई नहीं मिलता 
 
8. महबूब कहने का मै हकदार नहीं 
तुझे पाने की हसरत अब तक मिटी नही ,नसीब मै नहीं है तु मेरे दिल को ये  अभी तक मंजूर नहीं ...!!


9. मेरा होकर भी मेरा नहीं यह सच्चाई काटती रही है, कोई रास्ता नही है उसे पाने का मगर जिंदगी झूठे दिलासे देती रही. .!! 

10. मेरी किस्मत मेरी लकीरों की मोहताज नहीं क्योंकि मैं औरत हूँ , भगवान के सिवाय किसी और से डरती नहीं...!!


11. मोहब्बत करने वाले आंखों की बात समझ लेते हैं ख्वाब में मिले तो मुलाकात समझ लेते हैं ,रोता तो आसमान भी है मोहब्बत के लिए
 ना जाने क्यों लोग उसे बरसात समझ लेते हैं...!!

12. याद उनकी आज भी बहुत सताती है लगी थी गले बहुत पहले कपड़ों में से खुशबू आज भी आती है...!!



13. मोहब्बत उसकी भी सच्ची थी मोहब्बत मेरी भी सच्ची थी ,
बस कुछ मोहब्बत के ठेकेदारों की हम दोनों से दुश्मनी थी...!! 

14. शहर भर में मजदूर जैसे दरबदर कोई ना था जिसने सबका घर बनाया उसके जैसा बेघर कोई ना था...


15. हमें तुमसे इश्क कितना है यह बताना आसान है क्या, बारिश की बूंदों की तरह मोहब्बत को नापना आसान है क्या 


16. ना किसी का धन ना किसी की दौलत चाहिए मुझे बस जो समझ सके एक ऐसा प्यार करने वाला हमसफर चाहिए
 
17. तुम्ह भूलने की कोशिश में दिल को जला कर राख कर दिया पर इस कमबख्त दिल ने सब कुछ जलाकर राख कर दिया और तेरी यादों को समेट कर कोने में रख लिया....!! 

18. सच्चे प्यार का एहसास होना चाहिए जान नहीं सिर्फ साथ चाहिए जान तो पल भर में दी जा सकती है, पर हमें आपका साथ आखिरी सांस तक चाहिए...!!

19. इश्क थोड़ा संभलकर करना ,जनाब लोगों को फिसलते देर नहीं लगती..

20.  कुछ इस तरह से मैने जिंदगी आसान कर दी किसी को माफ कर दिया किसी से माफी मांग ली...!!

21. गुस्से में बहुत प्यारी लगती हो, जब वो मेरे ही कंधे पर सर रखकर सो जाती  
है ...!!
 
दिल के अल्फ़ाज़ ...मेरी रचना और मेरी कलम से कुछ अल्फ़ाज़ आप सबको  उम्मीद करती हूँ ,अनमोल और सुंदर विचार बहुत ही अच्छे लगे हों 
आप अपना कोई सुझाव देना चाहें तो आप नीचे ज़रूर दिजिये.
अगर मेरे post में कोई खामियां लगती हो तो मै सुधार करने की कोशिश करूंगी...
प्लीज कमेंट बॉक्स में जरुर बताये  मेरे इस page को Facebook, WhatsApp and Google+ और अपने Friends के साथ Share जरूर करे...thankyou 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ