चेहरे के दाग धब्बे और पिम्पलस के लिए घेरेलू उपाय.....

युवावस्था के दौरान कील - मुहासों का निकलना एक आम समस्या है । कील - मुहासे तरुणावस्था में शरीर में होने वाले रासायनिक परिवर्तनों के कारण होते है, फि यह एक कुरूप या भदी समस्या के कारण युवाओं के शारीरिक और मानसिक कष्ट का कारण बनते हैं । युवावस्था के शुरूआती दौर में हर्मोन परिवर्तन अधिक तीव्रता के साथ होते हैं , साथ ही तेलीय ग्रन्थिया अपना अपना आकार बढ़ाती हैं ।अतः सीबम का निर्माण अधिक मात्रा में होने लगता है । कुछ रसायनो के प्रयोग से भी रोमछिद्र बंद हो जाते है और सीबम बाहर नहीं निकल पाता और इसकी वजह से मुंहासों में दर्द होता है । चेहरे पर कौस्मेटिक्स के प्रयोग से भी कील - मुंहासों की समस्या उत्पन्न हो जाती है । लेकिन कुछ घेरेलू और आयुर्वेदिक उपाय उपाय अपनाकर मुंहासों पर नियंत्रण किया जा सकता है । 
कया खाये और कया ना खाये:-----
अपने खाने में ऐसे पदार्थो का प्रयोग कम करें जो कम चिकनाई और हल्के मसाले वाला हो , ये मुहासों पर नियंत्रण पाने में काफी सहायक है । अधिक चिकनाई , तेज मीठा , स्टार्च व मसालेदार भोजन मुहासों को काफी अधिक बढ़ा देते ।
अतः ऐसे भोजन से जहां तक हो सक बचे। भोजन में ताजे फल , कच्ची सब्जियों और सलाद आदि का प्रयोग अधिक करें । ताजी और स्वच्छ हवा में व्यायाम करें और दिन में कम से कम आठ - दस गिलास पानी जरूर पिएं । दिन में तीन - चार बार चेहरे को अवश्य धोए । चेहरे पर साबुन का प्रयोग कम से कम करें । मुंहासों को हाथ से छुएं नहीं और न ही इन्हें फोड़ें । ऐसा करने से मुहांसों में इंफैक्शन और निशान पड़ने का खतरा बढ़ जाता है ।

मुहासे के लिए घेरेलू उपाय:-------

1. एक बड़ा चम्मच तुलसी के पत्तों का पाउडर , एक बड़ा चम्मच हल्दी पाउडर लें और सभी को ऊछी तरह मिलाकर पेस्ट बना लें । इसे सप्ताह में दो बार अपने चेहरे पर लगाएं । इस उबटन के प्रयोग के बाद निश्चित रूप से आप सुन्दर व कोमल त्वचा और मुहासे से छुटकारा पा सकेंगे

2. नींबू का रस व गुलाबजल बराबर मात्रा में निकालकर चेहरे पर लगाएं । आधे घंटे बाद ताजे पानी से धो लें । 10-15 दिन नियमित प्रयोग करने से आप मुंहासों से निजात पा सकेंगे ।

3. नहाने से पूर्व नींबू के छिलकों को चेहरे पर धीरे - धीरे मलें व कुछ देर पश्चात गुनगुने पानी से धो लें ।

4. छाछ से चेहरे को धोने से मुहांसों के दाग दूर हो जाते हैं और चेहरा आकर्षक व चमकदार हो जाता।
छाछ से चेहरे को धोने से मुहासों के दाग दूर हो जाते है और चेहरा आकर्षक हो जाता है ।

5. 10 ग्राम बेसन व 10 ग्राम हल्दी का चूर्ण दही में मिलाकर चेहरे पर हल्के हाथ से मालिश करे । सूख जाने पर चेहरा धो ले । दिन के नियमित प्रयोग से मुहासे मिट जाएगे.

6. मुहासो पर जॉयफल दुध में घिस कर लगाए और सूख जाए तो उसे धो दें । फिर किसी अच्छे स्किन टॉनिक से दिन में 5-6 बार अपना चेहरा साफ करे । बाहर जाते समय या अच्छा सनक्रीम लगा कर जाए ।

7. नीम वृक्ष की छाल को पानी के साथ घिस कर मुहासों पर लगाने से राहत मिलती है ।

8. मसूर की दाल को पीसकर दूध , कपूर और धी मिलाकर इसका उबटन चेहरे पर लगाए । इससे मुहासे और मुहासों के निशान दोनों हट जाएगे व चेहरा साफ हो जाएगा।

9. नीम की निमोली को दूध या छाछ में घिसकर मुहासों पर लगाए । मुहासों से हमेशा के लिए राहत मिल जाएगी ।

10. सतरे के छिलको को सुखाकर , पीसकर गुलाबजल में मिलाकर इस मिश्रण को चेहरे पर मलें । मुहासे शीघ नष्ट हो जाएंगे । इससे त्वचा में भी निखार आता है ।

11.एक कप दूध में एक नींबू का रस मिलाए । रात को सोने से पहले अच्छी तरह से मुह धोकर यह लेप लगाए व सुबह धो ले । कुछ दिनों के नियमित प्रयोग से मुहासे मिट जाएगे।

12. मटर के आटे में पानी व नीबू मिलाकर उबटन बनाए । यह उबटन लगाने से त्वचा के काले धब्बे व दाग दूर हो जाते है । मटर के छिलकों
को रात भर पानी में गलाकर अच्छी तरह निचोड़ लें फिर इस निचोड़े हुए पानी को गालो पर तेल की मरह मल लें . गाल मुलायम व दाग रहित होंगे व गालो की चमक भी बढ़ेगी ।

13. पुदीने के ताजा पत्ते थोडे से अल्कोहल में पीसकर चेहरे पर लगायें जिससे दाग झाइयां दूर होंगी और रंग भी निखरेगा ।

14. जौ , असगंध , मुलहठी और तिलों को पीसकर बारीक कर लें और इनका उबटन त्वचा पर लगाये, इससे त्वचा का रंग निखरता है और कील मुहासे ठीक होते है।

15. धनिया को कूट पीसकर चेहरे पर लेप करने से मुंहासे और काले तिलों की समस्या  हमेशा के लिए दूर होती हैं ।

16.. 4 चम्मच खीरे का रस , चार - पांच बूंद नींबू का रस , एक चम्मच गुलाब जल , तीनों को अच्छी तरह मिलाकर पेस्ट को चहरे पर लगाएं । 15-20 मिनट बाद चेहरा धो लें इस प्रयोग से चेहरे के दाग धब्बे मिट जाते है।

17. जैतून के तेल का नियमित रूप से प्रयोग मुहांसों से मुक्ति दिलाता है.

18. पके एवं ज्यादा गले पपीते को छील कर कुचलकर चेहरे पर लगाएं । पंद्रह - बीस मिनट के पश्चात जब सूखने लगे तो पानी से धो डालें और किसी नर्म तालिए से मुह को पोछ लें । इसके बाद तिल या नारियल का तेल लगाएं । चेहरे के दाग मुहासे दूर हो जाएंगे व चेहरा कोमल और चमकदार लगेगा ।

19. मुहांसों के लिए मुलतानी मिट्टी का लेप लाभदायकप् है ।

20. चेहरे पर केलेमाइन युक्त औषधि प्रयोग में लानी चाहिये.

21. रात में उड़द या मसूर की दाले बराबर मात्रा मे दूध में भिगो दे - सुबह बारीक पीस कर 5 बूंदे
असली शहद ,और 5 बूंदे नींबू का रस इस पेस्ट को चेहरे पर लगाकर सुखने दे । सुखने के बाद चेहरा धो ले । 50-60 दिन लगाते रहने से दाग धब्बे हमेशा के लिए मिट जाते है

22.यदि चेहरे पर झाइया हो तो अपने भोजन में हरी सब्जियों के प्रयोग के साथ - साथ चेहरे पर जैतून के तेल की नियमित पांच मिनट तक मालिश करने बहुत जल्दी फर्क पडेगा।

23. आंखों के अगर नीचे काले घेरे हो गये हो तो कैल्शियम और लौह तत्व की कमी के कारण ऐसा होता है। अपनी आंखों पर खीरे के गोल गोल टुकड़े आधा या एक घण्टा रखें और बादाम के तेल की मालिश आंखों के चारों तारफ हल्के हाथ से रोजाना करें ।

24. एक छोटे बर्फ के टुकड़े को एक साफ कपड़े में लपेट लें और धीरे-धीरे उसे अपने एक्ने पर रगड़ें। लेकिन ध्यान रखें कि आप ज्यादा देर तक बर्फ को एक्ने पर न रखें।

25. आप रुई में थोड़ा-सा टूथपेस्ट लेकर एक्ने पर लगाएं। ऐसा करने से आपके मुहासे का आकार छोटा हो सकता है। ध्यान रहे कि सफेद टूथपेस्ट का ही इस्तेमाल करें, जेल टूथपेस्ट का नहीं।

26. एलोवेरा जेल को दस से पंद्रह मिनट तक एक्ने पर लगा रहने दें फिर पानी से धो लें।

27. बेकिंग सोडा में पर्याप्त मात्रा में पानी मिलाकर उसका पेस्ट बना लें। पांच मिनट तक इस पेस्ट को एक्ने पर लगा रहने दें और फिर पानी से धो लें।

28. हल्दी में पर्याप्त मात्रा में पानी मिलाकर इसका पेस्ट बना लें। पेस्ट को उंगली से अच्छी तरह लगाएं। पेस्ट को सूखने के लिए दस से पंद्रह मिनट का समय दें और फिर उसे पानी से धो लें।

29. चन्दन पाउडर में गुलाब जल को मिलाकर गाढ़ा पेस्ट तैयार करें। एक कटोरी में एक या दो चम्मच नारियल तेल डालकर उसे गुनगुना कर लें। अपनी उंगली से तेल को पिंपल पर लगाएं। इसे हर कुछ घण्टों में लगाते रहें।

30. आप दिन में दो से तीन बार एक्ने पर ग्लिसरीन लगा सकते हैं। कुछ घण्टों के लिए एक्ने पर ग्लिसरीन लगा रहने दें और फिर पानी से धो लें।

मुँहासे क्यों निकलते :----

आयुर्वेद के अनुसार शरीर में पित्त और कफ की अधिकता होने के कारण एक्ने निकलने लगते हैं।  
पिंपल की समस्या अनुवांशिक हो सकती है। अगर आपके परिवार में किसी को बार-बार पिंपल होते हैं तो आपको भी एक्ने की समस्या का सामना करना पड़ सकता है।
बढ़ती उम्र के साथ शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलावों की वजह से भी एक्ने होते हैं। खासकर महिलाओं को मासिक धर्म, गर्भावस्था और रजोनिवृत्ति के समय शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलावों के कारण भी मुहासे हो सकते हैं।
कभी-कभी तनाव, या मानसिक बीमारी से जुड़ी कुछ दवाओं के सेवन से भी एक्ने निकल सकते हैं।
कॉस्मेटिक यानी सौंदर्य प्रसाधनों का जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल करने से एक्ने निकल सकते हैं। कई बार महिलाएं पूरे दिन मेकअप में रहती हैं और रात को ठीक से मेकअप नहीं उतारती हैं। इस वजह से भी पिंपल हो सकते हैं। इसलिए महिलाओं को हल्का मेकअप करने और नेचुरल ब्यूटी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है।
बाजार के डिब्बा बंद खाद्य पदार्थ और हाई शुगर वाले ड्रिंक्स का सेवन करने से भी एक्ने होते हैं। इसके अलावा डेयरी प्रोडक्ट, ऑयली चीजें और जंक फूड़ के ज्यादा सेवन से भी एक्ने हो सकते हैं।
ज्यादा समय तक तनाव में रहने से भी एक्ने की परेशानी हो सकती है। जब आप तनाव में होते हैं तो आपके शरीर के अन्दर कुछ बदलाव होते हैं जिस कारण मुँहासे होते है। घ
ज्यादा समय तक धूल-मिट्टी और प्रदूषित वातावरण में रहने से एक्ने होने का खतरा बढ़ जाता है। इसके अलावा, अगर आप एक शहर से दूसरे शहर तक ज्यादा आना-जाना करते हैं तो बदलते मौसम के कारण भी आपको एक्ने हो सकते हैं।
फैट ग्रन्थियों से जो स्राव निकलता है वह रूक जाता है। यह स्राव त्वचा को मुलायम रखने के लिए रोम छिद्रों से निकलता रहता है। यदि यह रुक जाए तो फुँसी के रूप में त्वचा के नीचे इकट्ठा हो जाता है और कठोर हो जाने पर मुँहासा बन जाता है। 

अगर थोड़ी सी सावधानी बरतें तो हम घर बैठे ही इस समस्या का इलाज कर सकते हैं। यह कोई बहुत बड़ी समस्या नहीं है बस थोड़े से कुछ घरेलू उपाय करके हम अपने चेहरे के खुद डाक्टर बन सकते हैं। 



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ