motivational story in hindi | शराबी पिता का बच्चो पर असर|

 



शराबी बाप और बच्चो की कहानी

राजन नाम के व्यक्ति के पास दो बेटे थे उनमें से एक बहुत ज्यादा शराब  पिने का आदी हो गया था और वह अपने परिवार के लोगों को अक्सर मारपीट किया करता था। जबकि दूसरा बेटा  बहुत बड़ी फैक्ट्री का मालिक बन गया  था। वह समाज में सम्मान और इज्जत वाला व्यक्ति था।उसका अच्छा खासा परिवार था। वो अपने परिवार को बहुत प्यार करता था। लेकिन एक ही बाप द्वारा पाले गए दोनों बच्चो का सब कुछ सोचने का तरीका अलग अलग था।
एक दिन किसी ने छोटे भाई शराबी  से पुछा कि आप यह सब क्यों करते हो। आप इतनी शराब के आदी कैसे हो गए हो। आप अपने परिवार के लोगों को क्यों पीटते हो और क्यों तंग करते हो,और आपको यह सब करने की कहां से  बुरी आदत पड़ी शराबी व्यक्ति ने जवाब दिया मैंने बचपन से ही अपने पिता को शराब पीते हुए देखा है जो मुझे और मेरी मां,बहन और भाई को सब को पीटता था। 
इस वजह से मैं शराबी बन गया हूं। मैंने अपने बाप से यही सब कुछ सीखा है....और जब दूसरे बड़े बिजनेस मैन भाई से पूछा गया आपको यह सब प्रेरणा कहां से मिली ,और आपने अपने जीवन में इतनी बड़ी सफलता कैसे हासिल की ,जो इतना बड़ा बिजनेस खड़ा कर लिया है । तब दूसरे भाई का जवाब था जब मैं बहुत छोटा था तब मैंने अपने पिताजी को शराब के नशे में धुत और बहुत सारे गलत काम करते हुए देखा था। तब से ही मैंने तय कर लिया था। मैं कभी भी अपने पिता जैसा नहीं बनूंगा और कभी भी अपने परिवार को तंग नहीं करूंगा।मेरे पिताजी ही मेरे लिए प्रेरणा है..! 
अब इन दोनों भाइयों में बस एक ही बात का फर्क था दोनों का पिता भी एक ही था पर यहाँ अपनी अपनी सोच की बात थी। अब यह अहम बात है कि आपने किस बात को अपनाते है। 

उसी पिता से एक बेेेटा शराबी बना और उसी पिता की वजह से दूसरा बेटा बहुत बड़ा बिजनेस मैन बना।
जिसने कभी शराब को छुआ तक नहीं।
अब यह हम सबकी सोच पर  डिपेंड करता है,कि हम किस बात को हम किस ढंग से फोलो कर रहे हैं। प्रेरणा इंसान को रास्ता अपनाने की इच्छा पैदा करती है,लेकिन अंत में रास्ता चुनना हमारे हाथ में होता है, हम सही रास्ता चुनते हैं,या गलत।


Moral of the story-
मेरी इस कहानी से यही शिक्षा मिलती है ,कि जीवन में बुरी और अच्छी दोनों परिस्थितियां आती हैं। वह आपके ऊपर निर्भर करता है, आप कौन सी परिस्थिति से प्रभावित होते हो। जीवन मे सही और गलत दोनों ही तरह के लोग मिलेंगे।वो
आप को तय करना होगा ।आप कौन सा रास्ते पर चलते हो।

 मेरी यही कहानी उन लोगों के लिए है जो किसी अपने किसी बहुत करीबी शराब पिने वाले से तंग है,अब आप ने तय करना है कि हम शराबी से क्या सीखते है।

मेरी ये कहानी उन परिवारों के लिए है जो अपने किसी बहुत करीबी शराब पिने वालों से तगं है 
अगर आप को ये कहानी अच्छी लगी हो तो please आप इसको अपने दोस्तों को जरूर शेयर करे ।हो सके ये कहानी पढ़कर किसी की जिंदगी मे बदलाव आ सकता है।
हो सके इसे कहानी को अपने चाहने वाले और दोस्तो को जरुर शेयर करे।




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ