unknown facts about mona lisa painting || मोनालिसा पेटिंग के रोचक तथ्य || mona lisa panting ||

Unknown facts about mona lisa painting in  hindi-

मोनालिसा को दुनिया की सबसे महंगी और रहस्य से भरी हुई पेंटिंग माना जाता है इस पेंटिंग के बारे में सबसे ज्यादा सर्च किया जा चुका है। इस पेंटिंग को करीब 500 साल पहले एक मशहूर पेंटर लियोनार्दो डा विंची ने बनाया था, उन्होंने यह पेंटिंग 1503 में बनाना शुरू किया और लगभग 14 साल बाद के इस पेन्टिंग का समय लगया था। इस के बारे में ऐसा कहा  जाता हैं जो बहुत ही रहस्ययी और चर्चित मानी जाती हैं। आइए जानते हैं इस पेंटिंग के बारे में कुछ ऐसे अनसुनी बातें जो आपको हैरान कर देगी।


Unknown facts about mona lisa painting-

इस पेन्टिंग के होठ बनाने में लगे 12 साल -

read more-unknown facts about Indian currency

ऐसा माना जाता है कि मोनालिसा के मतलब माय लेडी होता है। यह न केवल एक पेंटिंग है बल्कि अपने आप में एक रहस्यमयी इस तस्वीर की सबसे बड़ी खास बात यह है कि इसकी मुस्कान अलग अलग अलग से दिखाई देती है।  इस पर अब तक कई शोध किए जा चुके हैं क्योंकि इसकी पेंटिंग की मुस्कान आखिर में धीरे-धीरे खत्म हो जाती है और ऐसा भी बताया जाता है कि मोनालिसा पेंटिंग के होठ बनाने में पेंटर को पूरे 12 साल लग गए थे।


 *14 साल में बनी ये पेन्टिंग–

बनाने का पेंटिंग के बारे में ऐसा माना जाता है पेंटर को 14 साल लग गए तो उसको बनाने में उन्होंने1503 खाना बनाने की बनानी शुरू की थी और लगभग 1517 पूरा किया गया था इस पेंटिंग को बनाने के लिए लगभग 30 से भी ज्यादा लेट का इस्तेमाल किया जाता है इंसान वालों से भी पारीक काम था पेंटिंग देखने में बहुत बड़ी लगते लेकिन या काफी छोटी है यह 30 बाई 21 इंच की है इसका भार 8 किलोग्राम है


*मोनालिसा के लिए  एक वयक्ति ने अपनी जान तक दे दी थी।

बताया जाता है फ्रांस के एक आदमी ने  23 जून 1852 को पेरिस के एक होटल की छत से कूद कर अपनी जान दे दी थी वह मोनालिसा की इस मुस्कान व सुंदरता के लिए पागल था उसने अपने सुसाइड नोट में लिखा था वह  मोनालिसा की मुस्कान और प्यार में पागल था।  इतना ही नहीं इस पेंटिंग को कुछ लोग फुल और लव लेटर लिख कर रख जाते हैं


* mona lisa पेन्टिंग का चोरी होना-

यह पेंटिंग पहले बहुत ज्यादा फेमस नहीं थी ,इस को सबसे ज्यादा प्रसिद्धि तब मिली जब यह रिस लूब म्यूजियम पेरिस में चोरी हो गई  थी। 21 अगस्त 1911 को इतने बड़े मुलजियम से पेंटिंग कर चोरी होना बहुत बड़ी बात थी। इसके चोरी होने के बाद पहला शक पेंटर पाब्लो पिकासो पर गया था लेकिन उनसे पूछताछ करने के बाद यह इल्जाम उन से हटा दिया गया 

काफी सर्च करने के बाद पता चला कि इस मूयजियम  में एक ही कर्मचारी है जिसका नाम विनसेंजा पेरूगिया था उसने  इसे चोरी किया था । वह इस पेंटिंग को वापस कितने  इटली लेकर जाना चाहता था। उसका कहना था कि इटली की धरोहर है इटली मैं कुछ समय रखने के बाद इसे वापस म्यूजियम में रख दिया गया था। वहीं इस  इंसान  को इसके लिए 6 महीने की सजा दी गई थी, लेकिन इटली के लोग  उन्हें इसके लिए देश भक्त मानते हैं।


*मोनालिसा की जुड़वां पेंटिंग-

 ऐसा भी बताया जाता है कि एक बच्चे ने इसकी जैसी सेम पेंटिंग बनाई थी यह स्पेन की राजधानी में रखी गई है 1514 और 1516 के बीच एक स्टूडेंट ने मोनालिसा का एक न्यूड वर्जन भी बनाया था। जिसके हाथों और बोडी की पोजीशन असली पेंटिंग की तरह है। इसे मोन्ना वोन्ना कहा जाता है।


* मोनालिसा पेंटिंग आज भी रहस्य  हैं-

 मोनालिसा कौन महिला है, यह पेंटिंग आज भी एक रहस्य है, क्योंकि इसको बनाने वाले फेमस पेंटर एक पेंटर होने के साथ-साथ वह एक लेखक भी थे। उन्होंने कभी भी इस पेंटिंग के बारे में कुछ नहीं लिखा ना ही कभी बताया कि यह महिला कौन थी। इसलिए  कुछ रिसर्च , कुछ लोगों का मानना है कि यह पेंटिंग एक ऐसी महिला की है जो फ्लोरेंस की इटालियन महिला थी। वहीं कुछ लोगों का मानना है कि इस पेंटिंग पेन्टर ने खुद को एक औरत के रूप में बनाया था।


*मोनालिसा पेंटिंग को नुकसान पहुंचाने की कोशिश-

 जब दूसरा विश्व युद्ध चल रहा था तब मोनालिसा की पेंटिंग को कहीं बार अलग-अलग जगह पर बदला गया ताकि है जर्मन के लोगों के हाथ ना लग जाए। इस पेंटिंग को नुकसान पहुंचाने के लिए कई बार लोगों ने कोशिश की है। एक बार 1956 में एक टूरिस्ट  ने इस पर पत्थर  फेंक दिया था जिसकी वजह से उसकी बाजू पर निशान पड़ गया था बाद में इसे ठीक कर दिया गया था। इतना ही नहीं एक व्यक्ति ने इस पर एसीड फैंक  दिया था उसके बाद इस पेंटिंग को फ्रेम मैं रखा गया। वहीं पर एक महिला ने इस पर लाल रंग का spery कर दिया था। 

 *पेन्टिंग की कीमत-

अभी के समय में मोनालिसा की पेंटिंग का शुद्ध मूल्य 750 मिलियन डॉलर है और वह बिना किसी बीमा योजना के है।

* मोनालिसा की पेंटिंग बनाते समय पेंटर ने एक चिनार की लकड़ी के पैनल पर तेल पेंट का उपयोग करके मोनालिसा को कुछ इस तरह चित्रित किया कि इस पेंटिंग ब्रश के निशानों को देखना बहुत ही ज्यादा मुश्किल है।


* इस पेंटिंग को बनाने के लिए पेंटर ने विभिन्न रंगों की 30 परतो का इस्तेमाल किया था कुछ परते पतली थी जबकि कुछ अन्य मोटी थी।


*एक चेहरा पहचानने वाले सॉफ्टवेयर में एक बार यह दावा किया था कि मोनालिसा का चित्र 83% खुश,  9% घृणा करने वाले और 6 % भयभीत और 2 % क्रोधित है।


* मोनालिसा की पेंटिंग लियोनार्डो द विंची की सबसे बेहतरीन पेंटिंग में से एक है। जब भी किसी कलाकार के बारे में बात होती है तो उस पेंटिंग का जिक्र जरूर  होता है क्योंकि यह सबसे ज्यादा देखी जाने वाली विशव की पेंटिंग में शामिल है।

Post by kiran


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ