अदरक के फायदे | अदरक का सेवन कैसे करें सवास्थय के लिए | अदरक के औषधीय गुण |

Tittle -अदरक खाने के फायदे और सवासथय लाभ-अदरक में औषधि अदरक को औषधिय गुणों  से भरपूर माना जाता है।  यह हमारी रसोईघर  की हर सब्जी में ज्यादातर डाला जाता है। इसको सर्दी जुकाम और बच्चों के लिए दवाई के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से आपको बताने की कोशिश करेंगे की अदरक को किस प्रकार स्वास्थ्य लाभ  के लिए  प्रयोग किया जाए। 


*अदरक के गुण और स्वास्थय लाभ  -

अदरक को एक फूल वाला पौधा माना जाता है जो दक्षिण पूर्व एशिया में मूल रूप से उगाया जाता है और इस मसाले और हर्बल दवा के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। इसका खाने में स्वाद तिखा होता है लेकिन यह सहेत के लिए किसी दवाई से काम नहीं। इसमें जिजंरोल नामक बायोएक्टिव कंपाउंड पाया जाता है जो एंटी इंफ्लेमेंट्री और एंटीऑक्सीडेंट इफेक्ट भरता है।

अदरक के औषधीय गुण-

 अदरक बहुत सारे  गुणों से भरपूर है  संस्कृत में अदरक  विशवौषध नाम दिया गया है । अदरक वातन्ध , दीपक , पाचक , सारक , चक्षुष्य और पौष्टिक है । अदरक का रस सूजन , मूत्रविकार , पीलिया , अदमा खांसी , जलोदार आदि रोगों में भी लाभदायक होता है ।  आयुर्वेद विशेषज्ञ का मत है कि अदरक के नियमित सेवन से जीभ एवं गले का कैंसर नहीं होता । 
 बच्चे अगर बार - बार दूध उगल रहे हो तो अदरक की 3-4 बूंदे शहद के साथ चटा दें । इससे बार - बार दूध का उगलना बंद हो जायेगा । 
पेट में कीड़े हो जाने पर एक चम्मच अरेंडी का तेल और एक चम्मच अदरक का रस मिलाकर पीने पर पेट के कीड़े निकल जाते है । 
जुकाम होने पर चाय में अदरक डालकर पीना चाहिये । 
भूख न लगने पर अदरक और नींबू का रस नमक मिलाकर खाने से भूख लगने लगती है ।
 खांसी से परेशान व्यक्ति को सोते समय अदरक का रस शहद के साथ चाट लें परन्तु इसके बाद पानी पीना चाहिये ।
 अगर आपके चेहरे पर कील - मुंहासे हो गए हैं तो आप अदरक नमक के साथ खाइए लाभ मिलेगा । 
खून की खराबी होने पर अदरक , नींबू और काली मिर्च का सेवन करने से खून साफ होता है । दांतों के दर्द में अदरक का टुकड़ा दांतों के बीच दबा लें व उसका रस पीते रहें इससे लाभ मिलेगा । 
 जिसे भोजन हजम न होता हो , उसे चाहिये कि भोजन करने से पहले चार - पाच टुकड़े अदरक में नमक तथा नींबू का रस मिलाकर ले और उसके बाद भोजन जुकाम और बंद गले करें ।
 अदरक के टुकड़े चूसने से खांसी मिट जाती है । श्वास के रोगी को सदा अदरक का रस तथा शहद मिलाकर गुनगुना करके चाटते रहना चाहिये ।  
अदरक का रस एक तोला , शहद एक तोला गर्म करके दिन में दो बार देने से आराम मिलता है । बालखोरा हो जाने पर प्रतिदिन कुछ समय उस जगह पर अदरक का रस मलने से पुनः बाल निकल आता है ।। अदरक का रस पिलाने से भांग का नशा उतर जाता है । 
अदरक का रस पीने से या सब्जियों मे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाती है इसे इम्यूनिटी बूस्टर भी माना जाता है

अदरक का सेवन से जिन लोगों का कोलेस्ट्रॉल लेवल कम होता है या हाई बीपी की शिकायत रहती है उनका ब्लड सर्कुलेशन बेहतर हो जाता है। इसे हार्ट अटैक जैसी  बीमारी का रिस्क कम हो जाता है ।
अदरक का सेवन करने से मधुमेह रोगियों को इसका सेवन जरूर करना चाहिए क्योंकि अदरक का सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल मेंटेन हो जाता है ।यह मधुमेह रोगियों के लिए उनकी तबीयत को ठीक रखता है

Disclaimer- प्रिय दोस्तों यह आर्टिकल पढ़ने के लिए शुक्रिया. इसमें हमने जो भी घरेलू उपाय या अदरक के बारे में जानकारी दिए हैं वह एक केवल सामान्य जानकारी के रूप दी गई है। अगर आपकी समस्या बहुत ज्यादा गंभीर है तो आप अपने पहले डॉक्टर की सलाह जरूर ले।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ