अपना भाग्य खुद बनाना पड़ता है किसी आगे मत रोये अगर रोना है तो भगवान् आगे रोए [ motivational story and inspirational quotes ]

अपना भाग्य खुद बनाना पड़ता है किसी के आगे रोने से नहीं बनता.इस संसार में कोई भी व्यक्ति ऐसा नहीं होगा जिसे कोई दुख ना हो,लेकिन हमारा दुख केवल भगवान और हम खुद अपने सूझबूझ और मेहनत से दुर कर सकते हैं। किसी के आगे रोने से नहीं,अगर आप अपनी किसी भी बात को ये चाहते हो समाज में मजाक ना बने  तो अपनी कमजोरी या अपने घर की किसी भी बात का पता ना चले तो उस बात को केवल अपने तक रखें।अगर हो सके तो अपनी औलाद से भी शेयर ना करें क्योंकि राज तभी तक राज रह सकता है जब आप किसी और से शेयर नहीं करते।अगर आपने अपने बच्चों से शेयर किया हो सकता है वह बच्चा, बच्चा होने की वजह से भोलेपन में उस बात को बता दे फिर वह राज आपका राज नहीं रहेगा, क्योंकि समस्या हर घर में होती है किसी के पास धन की कमी, किसी के पास अन्न की, किसी के चरित्र की कमी,और किसी के घर में नशा आदि की कमजोरी होती है। हर कोई यहां किसी न किसी समस्या से ग्रस्त है। दुनिया में कोई व्यकित ऐसा नहीं होगा जिसके पास कोई समस्या ना हो। इसलिए अपने दुखड़े किसी और के आगे ना रोए अगर आपको रोना ही है तो भगवान के आगे रोए। वह कभी भी आप के रोने की बात किसी और को नहीं बताएगा। उससे बड़ा ना कोई दोस्त है ना ही कोई खून का रिश्ता।  उसके साथ हमारा ऐसा रिश्ता है जिससे हम हर बात शेयर कर सकते हैं।अगर आप भी किसी समस्या को लेकर बहुत परेशान हैं सिर्फ उस बात को मौन होकर कुछ समय के लिए ही सही अपनी बात को सिर्फ भगवान को चुपचाप सिर्फ मन से कहें, जीभ से नहीं क्योंकि जब हम जीभ से बोलते हैं तो लोग सुनते हैं,और जब हम मन से बोलते हैं तो सिर्फ भगवान सुनते हैं। इसलिए अपने मन की हर बात सिर्फ भगवान से ही कहे।उससे अच्छा दुनिया में ना कोई दोस्त ना ही कोई रिश्ता। 

HINDI  MOTIVATIONL STORY👇🏻
एक बार एक औरत अपने पति के मरने के बाद बहुत परेशान थी वह हररोज रोती रहती थी। उसको लगता था कि शायद मुझ से दुखी कोई भी नहीं है। एक दिन गांव में एक सन्त आया तो उसने उस औरत की सारी बात सुनी और रोने की वज़ह पुुुुछी और कहने लगी बाबा जी मेरे से ज्यादा दुखी कोई नहीं है। भगवान ने मेरी छोटी सी उम्र में सब कुछ छीन लिया और मुझसे ज्यादा दुखी कोई नहीं है। संत ने कहा मैं एक मुट्ठी चावल आपको देता हूं और आप कोई भी एक ऐसा घर ढूंढ कर लाए जहां पर कभी कोई मौत ना हुई हो।और उस घर से मेरे लिए ये चावल बनवाकर लेकर आना ।
 वह गांव मे हर घर मे गई उसे पूरे गांव में कोई ऐसा घर नहीं मिला जहां कोई समस्या ना हो और कभी कोई मौत नहीं हुई हो। हर घर में किसी न किसी कारण हर कोई परेशान था फिर वापस लौट आई। बोली गुरु जी मुझे कोई ऐसा घर नहीं मिला जहां कोई मौत ना हुई हो। फिर गुरु जीने ने समझाया यह संसार है इस संसार में कोई भी व्यक्ति ऐसा नहीं है जिसके पास कोई दुख ना हो।इसलिए हमेशा अपना दुखडा लोगों के आगे ना रोये। अगर किसी व्यक्ति के पास धन-धान्य के भंडार तो हो सकता है।वह अपने शरीर से दुखी हो। और अपने स्वास्थ्य से बड़ा कोई धन,अगर आप अपने तन और मन से सुखी है तो यह सबसे बड़ा धन है।

कहानी से शिक्षा- नानक दुखिया सब ससार
⚘⚘⚘⚘⚘⚘⚘⚘⚘⚘

Motivational story in hindi 
दान का महत्व  [हिनदी कहानी ]
 एक बार एक संत के पास एक भिखारी भूखा प्यासा दोपहर में कुछ मांगने के लिए आया और बोला सन्त जी  में दो दिन से भूखा हूं। मुझे कुछ खाने के लिए चाहिए अब उस संत के पास खाने का देने के लिए कुछ भी नहीं था। वह संत सुत कातने का काम करता था। उसने भिखारी को अपना कुछ सूत कता हुआ उठा कर दे दिया और कहा आप इस ऊन के गोले को ले जाओ अगर आपको कुछ बेच कर  कुछ पैसे मिलते हैं तो आप उससे कुछ खाने का खरीद लो।  
भिखारी ऊन के गोले को लेकर चला गया और कुछ दूर चल कर उसने ऊन   की मदद से एक तलाब पर मछलियां पकड़ने लगा। और मछलियां पकड़ कर भोजन की व्यवस्था कर ली,और वह इस तरह हर रोज मछलियां पकड़ कर बेचने लगा,और यह काम करते-करते वह धीरे-धीरे बहुत पैसे कमाने लगा।अब इतना पैसा कमा लिया उसने और बड़ा जाल खरीद लिया।फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। फिर एक दिन उस भिखारी को उस संत की याद आई और सोचा चलो मैं उस संत को एक बार मिलकर आता हु और कुछ गिफट दे आता हुॅ जिसकी वजह से आज मै अमीर बना हु और जाकर सारी बात सन्त को बताई कि आप मुझे उस दिन उन का गोला ना देते तो शायद मैं इस काम को कभी नहीं करता। यह बात सुनकर संत को बहुत दुख हुआ। इसने इतनी सारी मछलियों को मार कर खत्म कर दिया और उन मछलियों के मारने का पाप भागीदार बना हूँ। अगर मैं इस इंसान को ऊन का गोला ना देता तो शायद यह मछलियां ना मारता। संत को इस बात को बहुत दुख हुआ और वह जो उपहार लेकर आया था वो लेने से मना कर, दिये और उस दिन को याद करके पश्चाताप करने लगे। उस महान संत का नाम कबीर था। संत कबीर ने इस कहानी के माध्यम से यह बताया की दान देने का भी एक महत्व है।अगर हम दान देते समय इस बात को जरूर ध्यान रखें जो हम दान दे रहे हैं वह किस उपयोग में काम आएगा। अगर हमने किसी गलत चीज का दान कर दिया तो हम भी पाप के भागीदार बनेंगे। जैसे मैं ऊन का गोला देकर बना हूं। इसलिए हमेशा दान भी सोच समझ कर करें।
 इस कहानी से यह शिक्षा मिलती है  जो भी काम करें या दान करें उसके बारे में पहले सोचे समझे और परखे  तभी किसी वस्तु का दान करें।

  
HINDI INSPIRATIONAL QUOTES IN HINDI 👇🏻

कुछ सुविचार जो मैं आज आपके साथ शेयर कर रही हूं अगर उनमें से कोई आपको अच्छा लगे तो आप अपने दोस्तों में जरूर शेयर करें और प्लीज कमेंट में जरूर लिखें मैं एक न्यू ब्लॉगर हूं प्लीज मुझे फॉलो करें

* हर किसी की अपनी अहमियत होती है, मछली जंगल में नहीं दौड़ सकती और शेर पानी में नहीं रह सकता इसलिए हर किसी को अहमियत दे।
 
* आज परेशानी है तो कल सुकून भी आएगा, क्योंकि जो भगवान आज किसी और का है, वह कल मेरे घर भी आएगा।

* छोटी-छोटी खुशियां जीने का सहारा बनती हैं, इच्छाओं का क्या पल-पल बदलती है।

 *सोचने का तरीका ठीक करो बाकी सब कुछ ठीक हो जाएगा।

 * भगवान के घर देर है, अंधेर नहीं।

* पैसों के साथ दुआ भी कमाओ क्योंकि जहां पैसा काम नहीं आता वहां दुआ काम आ जाती है।

* छाता बारिश तो नहीं रोक सकता लेकिन बारिश में खड़ा होने का साहस जरूर दे सकता है, ठीक इसी प्रकार आत्मविश्वास सफल होने की गारंटी तो नहीं लेकिन संघर्ष करने की प्रेरणा जरूर देता है।

 * कोशिश आखरी सांस तक करनी चाहिए, या लक्ष्य हासिल हो जायेगा  वरना अनुभव जरूर होगा। 

* कोशिश ऐसे करते रहो की  हारते हारते कब जीत जाओ पता ही ना चले।

* सफलता कभी किसी की शक्ल पर निर्भर नहीं करती वह सिर्फ हमारी बुद्धिमता पर निर्भर करती है।

 ज्ञान धन से ज्यादा मूल्यवान है क्योंकि धन की हमें रक्षा करनी पड़ती है,और ज्ञान हमारी रक्षा करता है।

 * धन-दौलत तो खानदान से विरासत से मिल सकता है, लेकिन पहचान खुद के दम पर बनानी पड़ती है।

* सफलता हासिल करने में समय लगता है, साहब कामयाबी कोई मेगी नहीं जो 2 मिनट में बन जाए।

* बारिश की बूंदे लगातार बरसने के बाद एक नदी की बन जाती हैं, इसी तरह लगातार कोशिश करते रहे छोटी छोटी  कोशिशें अपनी जिंदगी में नया परिवर्तन ला सकते हैं। 

* मेहनत इतनी करो कि जो किस्मत में नहीं लिखा था उसे अपने भाग्य में जबरदस्ती लिखवालो, कल तक जो लोग तुम्हारे साथ बात तक नहीं करते  थे वो तुम्हारा आटोग्राफ लेने के लिए  लाइन मे खड़े हो।

अगर आपको मेरी कहानी और कोई विचार अच्छे लगे तो प्लीज अपने चाहने वाले और दोस्तों को जरूर शेयर करें और अपनी फेसबुक, व्हाट्सएप ग्रुप में भी जरूर शेयर करें ।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ