गैस्ट्रिक (पेट गैस) की समस्या कैसे ठीक करें | home remedies for gastric problem|

हमारे खानपान में कुछ बदलाव आते हैं, हमारे शरीर में कुछ छोटी छोटी  बीमारियां चुपके आकर प्रवेश कर जाती हैं। जिनका हमें पता कुछ देर में लगता है। कभी-कभी यह बीमारियां शरीर के लिए इतनी गंभीर बन जाती हैं कि उनको सहन करना मुश्किल हो जाता है ।इन्हीं में से एक है पेट दर्द यानी गैस्ट्रिक।

 गैस हमारे लिए एक ऐसी समस्या है जिसकी वजह से हम खाने-पीने और पेट के दर्द जैसी दिक्कत से परेशान हो जाते हैं।
 कई बार हमें इस गैस की वजह से शर्मिंदगी भी महसूस होती है क्योंकि गैस का पास होने का कोई टाइम नहीं होता।कुछ लोगों को तो गैस की वजह से शर्मिंदा होना पड़ता है। 
आइए जानते हैं इसके कुछ ऐसे घरेलू और आयुर्वेदिक उपाय जो हम घर पर रहकर बहुत आसानी से इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। हमारे रसोईघर में कुछ ऐसी घरेलू सामान पाए जाते हैं जिनका उपयोग करके हम इस समस्या से निजात पा सकते हैं।

पेट गैस के कारण:-------
 हमारा अत्याधिक वसायुक्त व बासी भोजन  करने से इस तरह की समस्या बहुत जल्दी पैदा हो जाती हैं। हमें इस तरह की समस्या होने पर हमें अपने भोजन का विशेष धयान रखना चाहिए।  गैस की समस्या होने पर विटामिन सी का सेवन बहुत कम मात्रा में करना चाहिए।
जैसे:- संतरा, नींबू ,टमाटर,आचार   खट्टी चीजें आदि।  

 पैट गैस के लिए घेरेलू उपाय :-----

1.कॉफी और चाय का सेवन भी हमें ना के बराबर करना चाहिए।
अगर आप चाय पीने के आदी है तो पहले आप पानी पीये फिर चाय को ठंडी करके पिये।

2. लौंग :-------
गैस की समस्या को दूर करने के लिए लौंग बहुत ही लाभदायक है। इसे शहद के साथ लेने से कब्ज की समस्या को भी दूर किया जा सकता है। इसके अलावा रोजाना इसे चूसने से भी पेट ठीक रहता है और गैस नहीं बनती है।

3.भोजन करते समय पानी का प्रयोग कम से कम मात्रा में करें।

4. दो बार भरपेट भोजन खाने की बजाय दिन में चार-पांच बार थोड़ी-थोड़ी मात्रा में भोजन खाएं।

5. यदि आप गैस की समस्या से बहुत ज़्यादा परेशान हैं तो पुदीने की पत्तियों की चाय बनाकर पीने से राहत मिलती है। इससे आपको गैस की वजह से होने वाले पेट दर्द में भी आराम मिलता है। पुदीने की चाय बनाने के लिए पत्तियों को पानी में उबाल लें और उसमें टेस्ट के लिए 1 चम्मच शहद मिलाएं। यह चाय पैट गैस के लिए रामबाण का काम करती है।  

6. रात में सोने से दो-तीन घंटे पहले भोजन  करें। अधिक भोजन करने के बाद अगर आप इस समस्या से बचना चाहते है तो अधिक वजन वाले लोगों को अपने खाने पर नियंत्रण में रखना चाहिए, और योग को अपने जीवन में जरूर शामिल करे। 

7. पेट में गैस की समस्या को दूर करने के लिए अदरक सबसे अच्छा घरेलू उपचार है। इसमें एंटीबैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी तत्व पाएँ जाते हैं जो पेट में होने वाली कब्ज और गैस की  समस्या को दूर करने में सहायक होते हैं। 

8. गैस की समस्या होने पर नशीली वस्तुओं का इस्तेमाल ना करें।
 जैसे:- शराब, सिगरेट, तंबाकू, पान मसाला और बीड़ी आदि ऐसी वस्तुएं खाने से गैस की समस्या और ज्यादा बढ़ जाती है। इसलिए इन नशीली वस्तुओं से दुर रहे। 


9. काली मिर्च का प्रयोग भी पेट में कब्ज जैसी समस्याओं को दूर करने में किया जाता है। यह पेट में आमाशय रस के प्रवाह को बढ़ाती है और भोजन के सही तरह से पाचन में मदद करती है। पेट में हाइड्रोक्लोरिक एसिड की कमी से होने वाले पेट दर्द में भी काली मिर्च आराम पहुँचाती है। इसके चूर्ण को शहद के साथ, गुड़ के साथ या फिर छाछ के साथ लेने से कब्ज और गैस की समस्या दूर हो जाती है। 

 10.अगर आप चॉकलेट के शौकीन और आपको पैट गैस की समस्या से ग्रसत हैं तो अपने भोजन में से इन्हे भी हटाने में ही भलाई है। 

11. शीतल पेय पदार्थ भी गैस की समस्या को और बढा देते है। 

12. लहसुन गर्म गुणवत्ता और तेज गंध वाला होता है। इस वजह से यह भोजन के पाचन में मदद करता है और पेट में गैस भी नहीं बनने देता। लहसुन को प्रयोग में लाने के लिए कई तरीके हैं जैसे आप इसे आग में भून कर या फिर इसका जूस बनाकर या भोजन में पकाकर खा सकते हैं।
 जिनको कब्ज की बहुत ज़्यादा समस्या होती है, उन्हें कच्ची लहसुन को उपयोग में लाना चाहिए। ऐसा करने से कब्ज में जल्द ही आराम मिलता है। 

13.सेब के सिरके को आमतौर पर अपच का इलाज करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। सेब का सिरका पेट की गैस को दूर करने के लिए भी बेहद फायदेमंद होता है। सेब के सिरके में मौजूद एंजाइम पाचन का इलाज करते हैं और आपके शरीर को अल्कलाइज़ करने में भी मदद करते हैं जिससे आप बेहद आरामदायक महसूस करने लगते हैं और गैस की समस्या भी दूर हो जाती है। ये आपके पेट को हल्का करता है और जल्द आराम भी देता है। 

14. बेकिंग सोडा को सोडियम बायोकार्बनेट भी कहा जाता है। ये पेट की गैस को निकालने के लिए प्रभावी एंटासिड की तरह काम करता है। अगर आप इसे नींबू के जूस के साथ मिलाते हैं तो ये मिश्रण और भी ज़्यादा प्रभावी हो जाता है।

15.सौफ गैस और पेट फूलने की समस्या के लिए सर्वोत्तम सामग्री में से एक है। ये एक कार्मिनेटिव की तरह कार्य करती है जिसकी मदद से गैस को दूर करने में मदद मिलती है। 

16. आप अपने जीवन में योग और कपालभाति प्राणायाम  जरूर अपनाये। अपने जीवन को नीरस ना बनाएं किसी भी प्रकार से मनोरंजन या विभिन्न तरीकों से जीवन में रस जरूर शामिल करे ।

17.शरीर में किसी भी प्रकार की बीमारी होने पर अपने डॉक्टर को गैस की समस्या के बारे में अवश्य बताएं क्योंकि ऐसे में कुछ दवाइयां आदि । हमारे शरीर अमल बनाने में सहायक होती हैं। जिससे आपकी समस्या और ज्यादा बढ़ सकती हैं ।

18. अपने सुबह के भोजन में अंकुरित भोजन जरूर शामिल करें जैसे ताजे फल , हरी सब्जियां,  दही, नमकीन दलिया,  पतली खिचड़ी, लस्सी का सेवन जरूर करना चाहिए।
 इस प्रकार के रोगी को अपने भोजन में जो मोटे आटे की रोटी, पालक , हरी सब्जियां, परवल ,बथुवा, खीरा, ककड़ी ,टमाटर, पत्ता गोभी जरूर शामिल करें।

19. भोजन के 15 मिनट के पश्चात एक कागजी नींबू रस में 2 ग्राम काली मिर्च पाउडर और काला नमक एक गिलास  पानी में डालकर सेवन करने से गैस वाली समस्या में  बहुत जल्दी राहत मिलती है ।

20.अगर आपको गैस की समस्या है तो भुख अगर आपको चार रोटी की   है तो तीन रोटी ही खानी चाहिए। ऐसा करने से गैस की स्थिति में आराम मिलता है। 

21. सप्ताह में 1 दिन उपवास जरूर करें उपवास काल के दौरान केवल नींबू और ग्लूकोज़ का सेवन करना चाहिए।

22.  इस प्रकार के रोगी को बाजार के गरिष्ठ व चटपटे खाद्य पदार्थों का सेवन बंद कर देना चाहिए।

23. मल व मुत्र को ना रोके, ऐसा करने से आपको गैस की समस्या  शिकार हो सकते हैं। 

24. सोंठ और अजवायन चूर्ण आठ आठ ग्राम ,चुटकी भर काला नमक एक कप गुनगुने पानी में नित्य सुबह-शाम सेवन करें। 

25. ऐसे रोगी को सुबह-शाम सैर और योग अवश्य करनी चाहिए।

26.  गैस की समस्या होने पर पेट को रबड की बोतल द्वारा सेक करने से बहुत जल्दी लाभ मिलता है।  

 27. गैस की समस्या होने पर कब्ज को दूर करने के लिए रात को सोने से पहले एक चम्मच त्रिफला चूर्ण, एक चम्मच लवण भास्कर चूर्ण दोनों को मिलाकर गुनगुने ताजे या गुनगने जल से लेना चाहिए। इससे पेट जल्दी साफ होता है। 

28 हींग है पैट गैस के लिए रामबाण उपाय  :-----

 गैस की समस्या होने पर हींग को अपने खाने में जरूर डालें और अपने नाभि के चारो तरफ हींग का लेप करने से पेट का अफारा बहुत जल्दी दूर हो जाता है, इसलिए अपने भोजन में हींग की मात्रा को बढा दे।

हींग को गैस के लिए बेहद प्रभावी उपाय माना जाता है। इसमें एंटीस्पास्मोडिक और ऐंटिफ्लाटुलेंट के गुण पाए जाते हैं जो अपच और गैस जैसी समस्याओं को कम करने में मदद करते हैं।
हींग का इस्तेमाल हम तीन तरीको से कर सकते है।

पहला तरीका -
एक ग्लास गर्म पानी में एक चुटकी हींग को डाल दें और फिर पानी को अच्छे से चला लें।इस मिश्रण को फिर पी जाएँ।पूरे दिन में इसका उपयोग दो या तीन बार ज़रूर करें।

दूसरा तरीका:------ 
इसके अलावा आप केले के टुकड़े में हींग को रखकर भी खा सकते हैं।
इस प्रक्रिया को पूरे दिन में दो बार ज़रूर अपनाएँ।

तीसरा तरीका:------- 
हींग को सबसे पहले कूट लें और उसमे ज़रा सा पानी मिला लें।
पेस्ट तैयार होने के बाद इसे अपने पेट पर लगाएं और कुछ मिनट तक सूखने का इंतज़ार करें।इसकी मदद से आपकी गैस जल्द दूर हो जाएगी। यह प्रयोग हम छोटे बच्चे के लिये भी कर सकते है।

यह सारे घरेलू उपाय अपनाकर हम इन छोटी-छोटी बीमारियों का घर पर रहकर ही खुद इलाज कर सकते हैं। हमारी रसोई घर में बहुत सारे ऐसे आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां हैं जिनका लाभ हम अपने स्वास्थ्य के लिए कर सकते हैं, क्योंकि स्वास्थ्य ही हमार अमूल्य धन है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ